Followers

नई कवितायेँ ...

LatestPoetry:


Hindi

Saturday 7 July 2012

"कस्तूरी" काव्य संग्रह

प्रिय मित्रों,
काफी दिनों से ब्लॉग अपडेट नही किया था किसी को वादा किया बैठा था की जब तक वो कोई अच्छा सा विषय नहीं प्रदान करेगा तब तक मैं कोई कविता नहीं लिखूंगा इसलिए मैं कविता नहीं लिखा हूँ !
कुछ महीनो से श्री मुकेश कुमार सिन्हा एवं उनके साथीयों द्वारा एक अद्भुत प्रयास किया गया है जो कि नीचे लिखा गया है, "कस्तूरी" नामक काव्य संग्रह है जिसका शीघ्र प्रकाशन होना है, आइये मुख्या अंशों पर एक झलक मार लें 
धन्यवाद !!!


साहित्य प्रेमियो,

24 काव्य-सुगंधियों के रचनाओं का संग्रह 'कस्तूरी' का प्रकाशन "हिंद-युग्म" कर रहा है। जिसका संपादन अंजु(अनु) चौधरी एवं मुकेश कुमार सिन्हा ने किया है। संपादक द्वय हिंदी ब्लॉगिंग की दुनिया में एक विशेष मुकाम रखते हैं। पाठकों को अपील करते हुए संपादक द्वय लिखते हैं-
"कुछ मित्र मिले, कुछ मित्र बने और हमने साथ चलने का निश्चय किया अपने शब्दों को सहजे कर, सँवार कर, सींच कर एक शब्दों का हार बनाया... अब हमारे समक्ष रास्ते खुल चुके हैं..., हमने अपने धूलिमय पग छोड़कर आप सब के स्वागत के लिए, सबके समीप आ चुके हैं। इस जीवन में गतिमान होना ही हम सब की नियति हैं... हे! हमारे पथ के सहयात्री, हर क्षण हम सब साथ मिलकर चले हैं... क्योंकि हर एक नयी उम्मीद के साथ... हम सब की कस्तूरी ने एक नया कदम आगे बढ़ा दिया हैं। हम सब यूँ ही अपने इच्छित पथ पर... अपनी ही त्रुटियों के साथ तथा उसको एक-दूसरे को सुधारने की कोशिश करते हुए ऐसे ही आगे बढ़ते रहे... बस इसी छोटी-सी इच्छा के साथ कि हम सब की कस्तूरी इस लेखन जगत की एक ऊँचाई को छुए- उम्मीद तो रख ही सकते हैं... इसी उम्मीद के साथ हम सब अपनी-अपनी लेखनी की सुंगंधि के साथ आपके सामने हैं... हम में विश्वास रखना... हमारी रचनाओं के लिए कुछ पल का साथ देना..."

पुस्तक में शामिल रचनाकारों की सूचीः

अंजु (अनु) चौधरी
अजय देवगिरे
अमित आनंद पाण्डेय
आनंद द्विवेदी
कुमार राहुल तिवारी
गुंजन अग्रवाल
गुरमीत सिंह
जीसबे गुरजीत सिंह
डॉ. वंदना सिंह
नीलिमा शर्मा
नीलम पुरी
पल्लवी सक्सेना
बोधमिता
मीनाक्षी मिश्रा तिवारी
मुकेश कुमार सिन्हा
मुकेश गिरि गोस्वामी
रजत श्रीवास्तव
रश्मि प्रभा
राहुल सिंह
रिया
वन्दना गुप्ता
वाणी शर्मा
शिखा वार्ष्णेय
हरविंदर सलूजा

पुस्तक का कला निर्देशन विजेंद्र एस विज ने किया है।

पुस्तक प्रकाशित होते ही फ्लिकार्ट डॉट कॉम पर विक्रय के लिए उपलब्ध होगी।

तो कीजिए बस थोड़ा-सा इंतज़ार..

3 comments:

  1. आप सभी को बधाई एवं शुभकामनाये...
    :-)

    ReplyDelete